तेज और निष्पक्ष खबरों को जानने के लिए बने रहे डिस्कवरी न्यूज़ डॉट इन or discoverynews.in, covid-19 से बचाव के लिए मास्क एवं सेनेटाइजर का उपयोग करते रहे, महामारी में वीज़ा नियमों में ढील : विदेश में बसे भारतीय, विदेशी नागरिक भारत आ सकते हैं, लेकिन टूरिस्ट वीज़ा पर नहीं, बिहार चुनाव : BJP ने किया 19 लाख नौकरियों, हर बिहारवासी को फ्री कोरोना वैक्सीन का वादा, योगी आदित्यनाथ के बयान पर ओवैसी का पलटवार- 24 घंटों में साबित करें कि आप सच्चे योगी हैं, H-1B स्पेशलिटी वीजा पर US विदेश विभाग का नया प्रस्ताव- सैकड़ों भारतीय हो सकते हैं प्रभावित, उद्धव सरकार का बड़ा फैसला, महाराष्ट्र में बिना इजाजत CBI की 'नो एंट्री', लेह में गलत लोकेशन दिखाने पर भारत सरकार ने जताई आपत्ति, Twitter के सीईओ को लिखी चिट्ठी, ताइवान के विदेश मंत्री बोले- हमारे निवेशकों ने भारत में पैदा किए 65000 रोजगार, देश में कोरोना के कुल मामले 77 लाख के पार, 24 घंटे में दर्ज हुए 55,839 केस, दुश्मन की नींद उड़ाएगी 'नाग' एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल, पोखरण में सफल परीक्षण, NASA's Osiris-Rex : ऐस्टरॉइड पर उतरा NASA का स्पेसक्राफ्ट, 2023 में पृथ्वी पर लौटेगा, दिल्ली दंगे से जुड़े 3 मामलों में ताहिर हुसैन को झटका, कोर्ट ने खारिज की जमानत याचिका , स्मार्ट LED TV पर बंपर छूट, Amazon पर मिल रहा 50 परसेंट तक डिस्काउंट,
BREAKING NEWS
{"effect":"slide-h","fontstyle":"normal","autoplay":"true","timer":"5000"}

                                                   phone spying

विज्ञान कांग्रेस में समाज के सामने मौजूदा बड़े खतरों पर चर्चा हुई। इस मौके पर जाने-माने हृदयरोग विशेषज्ञ सीएन मंजूनाथ ने एक व्याख्यान के दौरान जिन चार खतरों का जिक्र किया, उसमें अकेलेपन और बेरोजगारी को सबसे बड़ा खतरा माना गया।

उन्होंने बताया कि आज किस प्रकार मोबाइल फोन, इंटरनेट और सोशल मीडिया के बढ़ते प्रभाव तथा अन्य कारणों से लोग अकेलेपन का शिकार हो रहे हैं।

मंजूनाथ के मुताबिक मोबाइल-इंटरनेट के बढ़ते चलन से देश में हर सात में से एक व्यक्ति स्क्रीन एडिक्शन (लत) से जूझ रहा है।

घंटों मोबाइल या कंप्यूटर स्क्रीन से चिपके रहने के कारण लोगों में अकेलेपन का एहसास बढ़ रहा है। वे अपनी समस्याएं किसी से साझा नहीं करते हैं। इससे तनाव और उच्च रक्तचाप की शिकायत सामने आ रही है, जो अंतत: हार्ट अटैक का कारण बन रही।

पानी और मौसम से जुड़े संकट को दूसरा बड़ा खतरा बताया गया, जबकि तीसरे बड़े खतरे के रूप मे कमजोर अर्थव्यवस्था का उल्लेख किया गया। जीवनशैली से जुड़ी बीमारियों को चौथा बड़ा खतरा करार दिया गया।

0 Reviews

Write a Review

admin

Read Previous

US आव्रजन विभाग ने आर्मी ऑफिसर की मां को निर्वासित कर 31 साल बाद मेक्सिको भेजा

Read Next

CBSE Exam में अच्छे नंबर लाने वाले छात्रों को दिल्ली सरकार दे रही टैबलेट, जानें योजना की 5 बातें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *