तेज और निष्पक्ष खबरों को जानने के लिए बने रहे डिस्कवरी न्यूज़ डॉट इन or discoverynews.in, covid-19 से बचाव के लिए मास्क एवं सेनेटाइजर का उपयोग करते रहे, महामारी में वीज़ा नियमों में ढील : विदेश में बसे भारतीय, विदेशी नागरिक भारत आ सकते हैं, लेकिन टूरिस्ट वीज़ा पर नहीं, बिहार चुनाव : BJP ने किया 19 लाख नौकरियों, हर बिहारवासी को फ्री कोरोना वैक्सीन का वादा, योगी आदित्यनाथ के बयान पर ओवैसी का पलटवार- 24 घंटों में साबित करें कि आप सच्चे योगी हैं, H-1B स्पेशलिटी वीजा पर US विदेश विभाग का नया प्रस्ताव- सैकड़ों भारतीय हो सकते हैं प्रभावित, उद्धव सरकार का बड़ा फैसला, महाराष्ट्र में बिना इजाजत CBI की 'नो एंट्री', लेह में गलत लोकेशन दिखाने पर भारत सरकार ने जताई आपत्ति, Twitter के सीईओ को लिखी चिट्ठी, ताइवान के विदेश मंत्री बोले- हमारे निवेशकों ने भारत में पैदा किए 65000 रोजगार, देश में कोरोना के कुल मामले 77 लाख के पार, 24 घंटे में दर्ज हुए 55,839 केस, दुश्मन की नींद उड़ाएगी 'नाग' एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल, पोखरण में सफल परीक्षण, NASA's Osiris-Rex : ऐस्टरॉइड पर उतरा NASA का स्पेसक्राफ्ट, 2023 में पृथ्वी पर लौटेगा, दिल्ली दंगे से जुड़े 3 मामलों में ताहिर हुसैन को झटका, कोर्ट ने खारिज की जमानत याचिका , स्मार्ट LED TV पर बंपर छूट, Amazon पर मिल रहा 50 परसेंट तक डिस्काउंट,
BREAKING NEWS
{"effect":"slide-h","fontstyle":"normal","autoplay":"true","timer":"5000"}

New Delhi/Discovery NEWS

  DHEERAJ KUMAR DIXIT

  • चीन के खिलाफ बड़ा खुलासा- वुहान की डॉक्टर ने कहा हमें चुप रहने की धमकी मिली थी

    चीन के वुहान से ही कोरोना वायरस फैला था. ये बात है करीब 15 दिसंबर 2019 के आसपास की जब इस जानलेवा वायरस से जुड़ा पहला मामला वुहान में सामने आया था. डॉक्टरों ने पता भी कर लिया था कि ये वायरस अलग है, जानलेवा है और ये बहुत तेजी से फैलेगा लेकिन चीन की सरकार और अधिकारियों ने डॉक्टरों को कुछ भी बोलने से मना कर दिया था. अगर उसी समय वुहान के इन डॉक्टरों की चीन सुन लेता तो ये वायरस इतना नहीं फैलता. (फोटोः रेनवू)

  • चीन के खिलाफ बड़ा खुलासा- वुहान की डॉक्टर ने कहा हमें चुप रहने की धमकी मिली थी

    वुहान से फैले कोरोना वायरस की वजह से अब तक पूरी दुनिया में 122,926 लोग संक्रमित हैं. 4595 लोगों की मौत हो चुकी है. वुहान में जिस डॉक्टर ने सबसे पहले इस वायरस की बात की उनकी मौत हो गई. कुछ लोग लापता हो गए. आइए जानते हैं कोविड 19 कोरोनावायरस को खोजने वाले डॉक्टरों में से एक आई फेन का चीन के खिलाफ बड़ा खुलासा. (फोटोः रेनवू)

  • चीन के खिलाफ बड़ा खुलासा- वुहान की डॉक्टर ने कहा हमें चुप रहने की धमकी मिली थी

    वुहान की डॉक्टर आई फेन ने कहा मेरे कई साथी इस बीमारी से ग्रसित लोगों का इलाज करते वक्त मर गए. लेकिन दिसंबर में जब हमने इस वायरस के बारे में आला सरकारी अधिकारियों को बताया तो हमें चुप रहने को कहा गया था. (फोटोः रेनवू)

  • चीन के खिलाफ बड़ा खुलासा- वुहान की डॉक्टर ने कहा हमें चुप रहने की धमकी मिली थी

    डॉ. आई फेन ने चीनी की मैगजीन रेनवू को एक इंटरव्यू में ये सारी बातें बताईं. डॉ. फेन वुहान सेंट्रल हॉस्पिटल में आपातकालीन विभाग की निदेशक हैं. (फोटोः गेटी)

  • चीन के खिलाफ बड़ा खुलासा- वुहान की डॉक्टर ने कहा हमें चुप रहने की धमकी मिली थी

    डॉ. फेन ने बताया कि उन्हें धमकाया गया था कि अगर आप इस वायरस के बारे में किसी से भी बात करेंगी तो अंजाम बेहद बुरा होगा. उनके साथी और इस मामले को सोशल मीडिया पर उठाने वाले डॉक्टर ली वेनलियांग अभी जेल में हैं. (फोटोः पीटीआई)

  • चीन के खिलाफ बड़ा खुलासा- वुहान की डॉक्टर ने कहा हमें चुप रहने की धमकी मिली थी

    डॉ. फेन ने बताया कि मुझे यह पता होता कि यह वायरस इतने लोगों की जान ले लेगा तो मैं चुप नहीं बैठती. मैं पूरी दुनिया में ये बात सभी को बताती. जिस भी माध्यम से कह पाती मैं ये जानकारी सभी को देती. फिर चाहे मुझे कोई जेल में ही क्यों न डाल देता. (फोटोः एपी)

  • चीन के खिलाफ बड़ा खुलासा- वुहान की डॉक्टर ने कहा हमें चुप रहने की धमकी मिली थी

    डॉ. फेन का यह इंटरव्यू रेनवू ने अपनी साइट से हटा दिया. चीन की सोशल मीडिया साइट्स पर से भी डॉ. फेन का इंटरव्यू गायब हो गया. लेकिन कुछ चीनी लोगों ने इसके स्क्रीनशॉट्स ले लिए थे. (फोटोः एपी)

  • चीन के खिलाफ बड़ा खुलासा- वुहान की डॉक्टर ने कहा हमें चुप रहने की धमकी मिली थी

    अब डॉ. फेन का इंटरव्यू इमोजी और मोर्स कोड में बदलकर सोशल मीडिया पर वायरल किया जा रहा है. इसे प्रोड्यूसर टोनी लिन ने अपने ट्विटर हैंडल से शेयर किया है. (फोटोः रॉयटर्स)

    Tony Lin 林東尼@tony_zy

    For those who’re already applauding China’s COVID-19 responses, CN is still heavily censoring info. A magazine’s feature on a whistleblower is being taken down from the entire CN internet. Ppl have to turn article into EMOJI to avoid censorship. Chinese readers can u decode it?

    View image on TwitterView image on Twitter
    312 people are talking about this
  • चीन के खिलाफ बड़ा खुलासा- वुहान की डॉक्टर ने कहा हमें चुप रहने की धमकी मिली थी

    डॉ. फेन ने बताया कि 30 दिसंबर को उन्हें कई मरीज एक जैसी बीमारी वाले लक्षण के साथ सामने दिखाई दिए. हमने जब उनकी लैब में जांच की तो पता चला कि उनके अंदर मौजूद वायरस सार्स कोरोनावायरस जैसा है. (फोटोः रॉयटर्स)

  • चीन के खिलाफ बड़ा खुलासा- वुहान की डॉक्टर ने कहा हमें चुप रहने की धमकी मिली थी

    डॉ. फेन ने रिपोर्ट की तस्वीर लेकर अपने सीनियर्स और सरकारी अधिकारियों को भेजी. शाम तक यह तस्वीर वुहान के सभी डॉक्टरों के पास पहुंच गई. डॉ. ली वेनलियांग ने इसे सोशल मीडिया पर डालकर दुनियाभर को बताया कि नया कोरोनावायरस फैल रहा है. (फोटोः रेनवू)

  • चीन के खिलाफ बड़ा खुलासा- वुहान की डॉक्टर ने कहा हमें चुप रहने की धमकी मिली थी

    रात में अस्पताल प्रबंधन का मैसेज आया कि डॉ. फेन आप इस बीमारी के बारे में किसी को नहीं बताएंगी. दो दिन बाद उन्हें धमकी दी गई कि अगर आप ने इसके बारे में किसी को कुछ बताया तो अंजाम बेहद बुरा होगा. (फोटोः रेनवू)

  • चीन के खिलाफ बड़ा खुलासा- वुहान की डॉक्टर ने कहा हमें चुप रहने की धमकी मिली थी

    डॉ. फेन ने सभी सरकारी अधिकारियों और अस्पताल प्रबंधन को समझाने की कोशिश की लेकिन उनकी बात किसी ने नहीं सुनी. 21 जनवरी तक इमरजेंसी विभाग में हर 1523 मरीज से ज्यादा आने लगे थे. (फोटोः रेनवू)

  • चीन के खिलाफ बड़ा खुलासा- वुहान की डॉक्टर ने कहा हमें चुप रहने की धमकी मिली थी

    डॉ. फेन ने बताया कि मैं वो दिन नहीं भूल सकती जब एक बीमार बेटे की मौत के बाद डॉक्टर उसके पिता को डेथ सर्टिफिकेट दे रहे थे और वो बुजुर्ग डॉक्टरों की तरफ एकटक देखे जा रहा था. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

 

 

0 Reviews

Write a Review

admin

Read Previous

Is it coronavirus or the flu? What is the difference between the two

Read Next

Coronavirus: जानलेवा वायरस का नाम क्यों पड़ा करॉना, जानें कौन-कौन है इसकी फैमिली में- स्पेशल रिपोर्ट Published By DHEERAJ KUMAR DIXIT

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *