तेज और निष्पक्ष खबरों को जानने के लिए बने रहे डिस्कवरी न्यूज़ डॉट इन or discoverynews.in, covid-19 से बचाव के लिए मास्क एवं सेनेटाइजर का उपयोग करते रहे, महामारी में वीज़ा नियमों में ढील : विदेश में बसे भारतीय, विदेशी नागरिक भारत आ सकते हैं, लेकिन टूरिस्ट वीज़ा पर नहीं, बिहार चुनाव : BJP ने किया 19 लाख नौकरियों, हर बिहारवासी को फ्री कोरोना वैक्सीन का वादा, योगी आदित्यनाथ के बयान पर ओवैसी का पलटवार- 24 घंटों में साबित करें कि आप सच्चे योगी हैं, H-1B स्पेशलिटी वीजा पर US विदेश विभाग का नया प्रस्ताव- सैकड़ों भारतीय हो सकते हैं प्रभावित, उद्धव सरकार का बड़ा फैसला, महाराष्ट्र में बिना इजाजत CBI की 'नो एंट्री', लेह में गलत लोकेशन दिखाने पर भारत सरकार ने जताई आपत्ति, Twitter के सीईओ को लिखी चिट्ठी, ताइवान के विदेश मंत्री बोले- हमारे निवेशकों ने भारत में पैदा किए 65000 रोजगार, देश में कोरोना के कुल मामले 77 लाख के पार, 24 घंटे में दर्ज हुए 55,839 केस, दुश्मन की नींद उड़ाएगी 'नाग' एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल, पोखरण में सफल परीक्षण, NASA's Osiris-Rex : ऐस्टरॉइड पर उतरा NASA का स्पेसक्राफ्ट, 2023 में पृथ्वी पर लौटेगा, दिल्ली दंगे से जुड़े 3 मामलों में ताहिर हुसैन को झटका, कोर्ट ने खारिज की जमानत याचिका , स्मार्ट LED TV पर बंपर छूट, Amazon पर मिल रहा 50 परसेंट तक डिस्काउंट,
BREAKING NEWS
{"effect":"slide-h","fontstyle":"normal","autoplay":"true","timer":"5000"}

 

  • कोरोना से ठीक हो चुके मरीज बन सकते हैं बड़ा खतरा, WHO ने दी चेतावनी

    कोरोना वायरस के कारण हुए लॉकडाउन के चलते पूरी दुनिया की अर्थव्यवस्था को भारी नुकसान पहुंचा है. अर्थव्यवस्था को फिर से दुरुस्त करने के लिए कई देशों में इम्युनिटी पासपोर्ट और जोखिम मुक्त सर्टिफिकेट के आधार पर लॉकडाउन में ढील देने के बारे में विचार किया जा रहा है. हालांकि विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने इस कदम को पूरी दुनिया के लिए बड़ा खतरा बताकर चेताया है.

  • कोरोना से ठीक हो चुके मरीज बन सकते हैं बड़ा खतरा, WHO ने दी चेतावनी

    WHO ने बताया कि दुनियाभर में ऐसे कई मामले सामने आ चुके हैं जब कोरोना पीड़ित ठीक होने के बाद फिर से संक्रमित हो गए हैं. ऐसे में इस बात को कैसे माना जा सकता है कि लोग दोबारा इस संक्रमण के शिकार नहीं होंगे और वे पूरी तरह सुरक्षित हैं.

  • कोरोना से ठीक हो चुके मरीज बन सकते हैं बड़ा खतरा, WHO ने दी चेतावनी

    स्वास्थ्य संगठन ने कहा, ‘इस प्रकार की योजनाएं दुनियाभर में कोरोना के खतरे को बढ़ाएंगी. साथ ही अपने इम्यून को लेकर लोग एहतियात बरतना बंद कर देंगे.’ कुछ सरकारें ऐसे लोगों के काम पर लौटने की अनुमति देने पर विचार कर चुकी हैं

  • कोरोना से ठीक हो चुके मरीज बन सकते हैं बड़ा खतरा, WHO ने दी चेतावनी

    दुनियाभर में अब तक तकरीबन साढ़े 29 लाख से भी ज़्यादा कोरोना वायरस पॉजीटिव मामले सामने आ चुके हैं. इनमें तकरीबन दो लाख से भी ज्यादा लोगों की मौत हुई है. अभी तक इस बात के साक्ष्य नहीं मिले हैं कि जिन लोगों में संक्रमण से ठीक होने के बाद एंटीबॉडी विकसित हो गया है, उन पर ये वयारस दोबारा अटैक नहीं करेगा.

  • कोरोना से ठीक हो चुके मरीज बन सकते हैं बड़ा खतरा, WHO ने दी चेतावनी

    WHO ने बताया कि अधिकांश मामलों में कोरोना संक्रमित मरीजों को दोबारा इस रोग ने नहीं घेरा है. इन लोगों के खून में एंटीबॉडी मौजूद है. वहीं कुछ लोग ऐसे भी हैं जिनमें एंटीबॉडी का लेवल काफी कम पाया गया है और ये वायरस उन्हीं लोगों पर दोबारा अटैक कर रहा है.

  • कोरोना से ठीक हो चुके मरीज बन सकते हैं बड़ा खतरा, WHO ने दी चेतावनी

    एक निष्कर्ष यह भी पता चला कि शरीर की रोग प्रतिरक्षा-प्रणाली में मौजूद टी-सेल्स भी संक्रमित सेल्स से लड़ने में कारगर होते हैं. हालांकि अभी तक इसकी पुष्टि नहीं हुई है कि एंटीबॉडी की मौजूदगी में इम्यून आगे भी वायरस के संक्रमण को रोकने में क्षमता प्रदान करेगा.

    कोरोना से ठीक हो चुके मरीज बन सकते हैं बड़ा खतरा, WHO ने दी चेतावनी

    कोरोना वायरस को लेकर दुनियाभर में जारी गाइडलाइंस किसी न किसी अध्ययन पर आधारित है. चूंकि इस वायरस को लेकर हर रोज कोई न कोई नई जानकारी सामने आ रही है, इसलिए समय के साथ दिशा-निर्देशों में बदलाव भी किया जा सकता है.

  • कोरोना से ठीक हो चुके मरीज बन सकते हैं बड़ा खतरा, WHO ने दी चेतावनी

    ऐसे में सभी देशों की सरकारों को खतरा टलने से पहले गिरती अर्थव्यवस्था को लेकर ऐसे नियम बनाने से बचना चाहिए. जिन लोगों के अंदर इसकी एंटीबॉडी विकसित हो गई है, उन्हें इम्युनिटी पासपोर्ट के तहत पाबंदियों से रियायत देना जोखिम भरा होगा.

  • कोरोना से ठीक हो चुके मरीज बन सकते हैं बड़ा खतरा, WHO ने दी चेतावनी

    पिछले सप्ताह चिली की सरकार ने दुनिया में तेजी से फैलती इस महामारी के बीच फैसला लेते हुए कहा है कि जो लोग संक्रमण के बाद ठीक हो गए हैं उन्हें ‘हेल्थ पासपोर्ट’ जारी करेगी. अधिकारियों का कहना था कि जिन लोगों के शरीर में वायरस का एंटीबॉडी पाया जाएगा वो काम पर लौट सकते हैं.

  • कोरोना से ठीक हो चुके मरीज बन सकते हैं बड़ा खतरा, WHO ने दी चेतावनी

    इसी तरह स्वीडन में भी पाबंदियों को सख्ती से नहीं लिया गया है. इस देश में खुद वैज्ञानिकों का कहना है कि जो लोग ज़्यादा पाबंदियों में रह रहे हैं उनकी तुलना में कम पाबंदियों में रहने वाले लोगों का इम्युनिटी लेवल ज्यादा बेहतर होगा.

 

0 Reviews

Write a Review

admin

Read Previous

महाभारत की 11 ऐसी कहानियां जिनके बारे में आपने शायद ही सुना होगा

Read Next

लॉकडाउन में गंगा का पानी हुआ इतना साफ कि दिखने लगी नीचे की जमीन, लोग बोले- ‘अब धुलेंगे पाप…’ देखें Viral Video

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *