तेज और निष्पक्ष खबरों को जानने के लिए बने रहे डिस्कवरी न्यूज़ डॉट इन or discoverynews.in, covid-19 से बचाव के लिए मास्क एवं सेनेटाइजर का उपयोग करते रहे, महामारी में वीज़ा नियमों में ढील : विदेश में बसे भारतीय, विदेशी नागरिक भारत आ सकते हैं, लेकिन टूरिस्ट वीज़ा पर नहीं, बिहार चुनाव : BJP ने किया 19 लाख नौकरियों, हर बिहारवासी को फ्री कोरोना वैक्सीन का वादा, योगी आदित्यनाथ के बयान पर ओवैसी का पलटवार- 24 घंटों में साबित करें कि आप सच्चे योगी हैं, H-1B स्पेशलिटी वीजा पर US विदेश विभाग का नया प्रस्ताव- सैकड़ों भारतीय हो सकते हैं प्रभावित, उद्धव सरकार का बड़ा फैसला, महाराष्ट्र में बिना इजाजत CBI की 'नो एंट्री', लेह में गलत लोकेशन दिखाने पर भारत सरकार ने जताई आपत्ति, Twitter के सीईओ को लिखी चिट्ठी, ताइवान के विदेश मंत्री बोले- हमारे निवेशकों ने भारत में पैदा किए 65000 रोजगार, देश में कोरोना के कुल मामले 77 लाख के पार, 24 घंटे में दर्ज हुए 55,839 केस, दुश्मन की नींद उड़ाएगी 'नाग' एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल, पोखरण में सफल परीक्षण, NASA's Osiris-Rex : ऐस्टरॉइड पर उतरा NASA का स्पेसक्राफ्ट, 2023 में पृथ्वी पर लौटेगा, दिल्ली दंगे से जुड़े 3 मामलों में ताहिर हुसैन को झटका, कोर्ट ने खारिज की जमानत याचिका , स्मार्ट LED TV पर बंपर छूट, Amazon पर मिल रहा 50 परसेंट तक डिस्काउंट,
BREAKING NEWS
{"effect":"slide-h","fontstyle":"normal","autoplay":"true","timer":"5000"}

नई दिल्ली:

नई दिल्ली: मृत्युंजय सिक्योरिटी कंपनी (ऑटोनोमस) सहित एवं  देश की 17  और सिक्योरिटी गार्ड एजेंसियां  3 लाख लोगों को ट्रेनिंग देंगी. मृत्युंजय कंपनी के मार्केटिंग इंडिया हेड धीरज कुमार दीक्षित ने बताया की लॉक डाउन फोर्थ के खत्म होने के बाद मिनिस्ट्री ऑफ़ होम अफेयर्स के  मार्किट सन्दर्भ में  ऑफिसियल डिटेल आने के बाद कंपनी अपने खर्चे पर हज़ारो बेरोजगारों को जॉब ट्रेनिंग देने के बाद दिल्ली सहित उत्तर प्रदेश के अन्य जनपदों पर तैनाती देगी और कंपनी ने बताया की ज्यादा जानकारी के लिए mrityunjayaintelligence.com पर  जानकारी प्राप्त की जा सकेगी  और वही  देश की 17  और सिक्योरिटी गार्ड एजेंसियां प्रशिक्षण सरकारी  योजना के तहत देंगी, और यह जानकारी स्किल डेवलपमेंट एंड आंत्रप्रेन्योरशिप मंत्रालय (एमएसडीई) ने यह जानकारी दी है. इससे बड़ी संख्या में लोगों को रोजगार मिलेगा. इन सिक्योरिटी गार्ड एजेंसियों में एसआईएस, जी4एस, पेरेग्रिन, चेकमेट, एनआईएसए, एसएमएस सिक्योरिटी और ओरिएन शामिल हैं. इनके सीनियर अफसरों ने मैनेजमेंट एंड आंत्रप्रेन्योरशिप एंड प्रोफेशनल स्किल काउंसिल (एमईपीएससी) से समझौता किया है. यह काउंसिल एमएसडीई के तहत आती है. मंत्रालय ने यह जानकारी दी है. पेट्रोलियम एंट स्किल डेवलपमेंट मिनिस्टर धर्मेंद्र प्रधान ने कहा, “बिजनेस, रिटेल आउटलेट और दूसरी जगहों पर सिक्योरिटी सर्विस की मांग बढ़ रही है. इससे इस उद्योग के तेज रफ्तार से बढ़ने की उम्मीद है. हमारा मंत्रालय छोटी अवधि के स्किल प्रोग्राम से युवाओं को उद्योग के लिए तैयार करना चाहता है.” मंत्रालय के मुताबिक, एमईपीएससी इस प्रशिक्षण का आयोजन रिकॉग्निशन ऑफ प्रायर लर्निंग (आरपीएल) स्कीम के तहत कर रही है. आरपीएल एक प्लेटफॉर्म है, जो अनौपचारिक लर्निंग या काम से सीखने को पहचान देता है. इससे ऐसे लोगों को औपचारिक शिक्षा हासिल करने वाले लोगों जैसी पहचान मिलती है.

आरपीएल के प्रमाणपत्र को देश में चलने वाले दूसरे स्किल ट्रेनिंग सर्टिफिकेट की तरह मान्यता मिलेगी. मंत्रालय इस सेक्टर के विकास पर जोर दे रहा है. प्रधान ने कहा कि इसके लिए निजी कंपनियों के साथ मिलकर बाजार की मांग के हिसाब से स्किल विकसित करने पर जोर दिया जाएगा.

अभी देश में प्राइवेट सिक्योरिटी इंडस्ट्री में 85 लाख लोगों को रोजगार मिला हुआ है. इनमें से 22 लाख लोगों को सिर्फ पुलिस सेवाओं ने रोजगार दिया है. इंडस्ट्री की रिपोर्ट के मुताबिक, 2022 तक देश में 1.2 करोड़ सिक्योरिटी गार्ड्स की जरूरत होगी.

मंत्रालय के बयान में कहा गया है, “सिक्योरिटी सेक्टर स्किल काउंसिल के तहत 1.3 लाख स्टूडेंट्स को प्रशिक्षण दिया गया है और 75 फीसदी को प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के तहत प्रमाणपत्र दिया गया है.”

सिक्योरिटी गार्ड एजेंसियों के साथ समझौता हेने से 3.17 लाख लोगों को सिक्योरिटी गार्ड की ट्रेनिंग मिलेगी.

 

0 Reviews

Write a Review

admin

Read Previous

कोविड-19: पंजाब और महाराष्ट्र के बाद अब तमिलनाडु ने भी बढ़ाया 31 मई तक लॉकडाउन

Read Next

भारत में एक लाख से ज्यादा हुए कोरोना के मरीज, तीन हजार से ज्यादा ने गंवाई जान

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *