तेज और निष्पक्ष खबरों को जानने के लिए बने रहे डिस्कवरी न्यूज़ डॉट इन or discoverynews.in, covid-19 से बचाव के लिए मास्क एवं सेनेटाइजर का उपयोग करते रहे, महामारी में वीज़ा नियमों में ढील : विदेश में बसे भारतीय, विदेशी नागरिक भारत आ सकते हैं, लेकिन टूरिस्ट वीज़ा पर नहीं, बिहार चुनाव : BJP ने किया 19 लाख नौकरियों, हर बिहारवासी को फ्री कोरोना वैक्सीन का वादा, योगी आदित्यनाथ के बयान पर ओवैसी का पलटवार- 24 घंटों में साबित करें कि आप सच्चे योगी हैं, H-1B स्पेशलिटी वीजा पर US विदेश विभाग का नया प्रस्ताव- सैकड़ों भारतीय हो सकते हैं प्रभावित, उद्धव सरकार का बड़ा फैसला, महाराष्ट्र में बिना इजाजत CBI की 'नो एंट्री', लेह में गलत लोकेशन दिखाने पर भारत सरकार ने जताई आपत्ति, Twitter के सीईओ को लिखी चिट्ठी, ताइवान के विदेश मंत्री बोले- हमारे निवेशकों ने भारत में पैदा किए 65000 रोजगार, देश में कोरोना के कुल मामले 77 लाख के पार, 24 घंटे में दर्ज हुए 55,839 केस, दुश्मन की नींद उड़ाएगी 'नाग' एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल, पोखरण में सफल परीक्षण, NASA's Osiris-Rex : ऐस्टरॉइड पर उतरा NASA का स्पेसक्राफ्ट, 2023 में पृथ्वी पर लौटेगा, दिल्ली दंगे से जुड़े 3 मामलों में ताहिर हुसैन को झटका, कोर्ट ने खारिज की जमानत याचिका , स्मार्ट LED TV पर बंपर छूट, Amazon पर मिल रहा 50 परसेंट तक डिस्काउंट,
BREAKING NEWS
{"effect":"slide-h","fontstyle":"normal","autoplay":"true","timer":"5000"}

Cyclone Amphan Live Tracking: बंगाल की खाड़ी में उठा चक्रवात तूफान अम्फान अब सुपर साइक्लोन में बदल चुका है. जो 20 मई यानी बुधवार को पश्चिम बंगाल के दीघा और बांग्लादेश के हतिया द्वीप के बीच में टकरा सकता है. उस वक्त इसकी हवा की गति 185 किलोमीटर प्रति घंटे हो सकती है.

Track Super Cyclone Amphan in Odisha, West Bengal Live (चक्रवाती तूफान अम्फान का खतरा)
Track Super Cyclone Amphan in Odisha, West Bengal Live (चक्रवाती तूफान अम्फान का खतरा)
(DHEERAJ KUMAR DIXIT)

नई दिल्ली, 19 मई 2020, अपडेटेड 10:18 IST

  • सुपर साइक्लोन में बदला चक्रवाती तूफान अम्फान
  • बंगाल-ओडिशा के साथ कई तटीय राज्यों में अलर्ट
  • तटीय इलाकों में एनडीआरएफ की टीमें तैनात

बंगाल की खाड़ी में उठा चक्रवात तूफान अम्फान अब सुपर साइक्लोन में बदल चुका है. जो अब तेज रफ्तार के साथ पश्चिम बंगाल और ओडिशा की तरफ बढ़ रहा है. मौसम विभाग का अनुमान है कि उफान पर पहुंचकर सुपर साइक्लोन तबाही मचा सकता है. इसकी गंभीरता का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार शाम को गृह मंत्रालय और एनडीएमए के साथ उच्चस्तरीय बैठक की. इस दौरान सुपर साइक्लोन से निपटने की तैयारियों का जायजा लिया गया. पश्चिम बंगाल और ओडिशा में हालात की गंभीरता को देखते हुए गृह सचिव ने दोनों राज्यों के मुख्य सचिवों से बात की.

मौसम विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक यह चक्रवाती तूफान आज दोपहर से शाम तक बंगाल की खाड़ी से उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ सकता है. ये पश्चिम बंगाल-बांग्लादेश के बीच दिग और हटिया द्वीप समूह (बांग्लादेश) के पास सुंदरवन के हिस्सों को पार करता हुआ आगे बढ़ सकता है. इस प्रकार यह अपने भीषण रूप में परिवर्तित होगा. इससे तटिए राज्यों को नुकसान का खतरा है. इन राज्यों के लिए अगले 6 घंटे काफी अहम हैं.

ANI

@ANI

It’s very likely to weaken into an extremely severe cyclonic storm during next 6 hrs. It’s very likely to move north northeastwards across northwest Bay of Bengal&cross W Bengal–Bangladesh coasts b/w Digha&Hatiya Islands close to Sundarbans during afternoon/evening of 20 May: IMD https://twitter.com/ANI/status/1262582129940037632 

ANI

@ANI

Super Cyclonic Storm ‘AMPHAN’ over west-central and adjoining east-central Bay of Bengal moved north-northeastwards with a speed of 14 km/ph during
past 6 hours & lay centred at 5:30 am today over west-central Bay of Bengal about 520 km nearly south of Paradip, Odisha: IMD

View image on Twitter
View image on Twitter
View image on Twitter
54 people are talking about this

इसके मद्दे नजर मौसम विभाग ने पूर्वी तटों के राज्य तमिलनाडु और पुडुचेरी से लेकर आंध्र प्रदेश, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, त्रिपुरा, मिजोरम, मणिपुर और आस-पास के तटीय इलाकों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया है. वहीं, ओडिशा के तटीय जिले हाई अलर्ट पर हैं.

ANI

@ANI

is very likely to move north-northeastwards across northwest Bay of Bengal&cross West Bengal–Bangladesh coasts between Dig&Hatiya Islands (Bangladesh) close to Sundarbans during afternoon/evening today as an Extremely Severe Cyclonic Storm: IMD

46 people are talking about this

पश्चिम बंगाल-ओडिशा में भारी नुकसान की आशंका

वहीं, भारतीय मौसम विभाग (IMD) के महानिदेशक मृत्युंजय महापात्रा ने कहा कि बंगाल की खाड़ी में बने ताकतवर चक्रवाती तूफान अम्फान से पश्चिम बंगाल और ओडिशा के तटीय जिलों में भारी नुकसान हो सकता है. उन्होंने कहा, अम्फान ओडिशा में 1999 में तूफान के बाद दूसरा सुपर साइक्लोन (चक्रवाती तूफान) है. 1999 के सुपर साइक्लोन ने 9 हजार से अधिक लोगों की जान ले ली थी.

उन्होंने कहा कि 700 किलोमीटर तक फैले और लगभग 15 किलोमीटर ऊंचाई वाला चक्रवात अम्फान अपने केंद्र में 220 से 230 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से घूम रहा है. जो तेज रफ्तार से उत्तर की ओर बढ़ रहा है, यह ओडिशा के पारादीप से 600 किलोमीटर दक्षिण में, पश्चिम बंगाल के दीघा से 750 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिण पश्चिम और बांग्लादेश के खेपुरा से करीब 1000 किलोमीटर दक्षिण-दक्षिण-पश्चिम में केंद्रित है.

ANI

@ANI

Super Cyclonic storm AMPHAN at 2330 hrs IST of 18th May near latitude 14.9°N and longitude 86.5°E over Westcentral Bay of Bengal about 600 km nearly south of Paradip (Odisha), 750 km south-southwest of Digha (West Bengal): India Meteorological Department

View image on TwitterView image on TwitterView image on TwitterView image on Twitter
78 people are talking about this

पश्चिम बंगाल-ओडिशा में ऑरेंज अलर्ट जारी

सुपर साइक्लोन के 20 मई को सुंदरबन के करीब दीघा द्वीप और बांग्लादेश के हटिया द्वीप के बीच टकराने की आशंका है. मौसम विभाग ने तटीय पश्चिम बंगाल और ओडिशा के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है, जहां इससे भारी नुकसान होने की आशंका है.

imd_051820105508.jpgसैटेलाइट से ली गई चक्रवात अम्फान की तस्वीर (फोटो-PTI)

मौसम विभाग के मुताबिक दक्षिण और उत्तर परगना, पश्चिम और पूर्व मेदिनीपुर, हुगली, हावड़ा और कोलकाता जैसे पश्चिम बंगाल के तटीय जिलों में 19 मई से बारिश शुरू होगी. मौसम विभाग के डीजी ने कहा पश्चिम बंगाल में पूर्वी मिदनापुर, दक्षिण और उत्तर 24 परगना, हावड़ा, हुगल और कोलकाता के इलाकों में तूफान का ज्यादा असर होगा. वहीं ओडिशा में जगतसिंहपुर, केंद्रपाड़ा, भद्रक और बालासोर जिलों पर चक्रवात ज्यादा खतरा मंडरा रहा है. दोनों राज्यों के तटीय इलाकों में रेल और रोड ट्रांसपोर्ट 20 मई तक बंद रखने का फैसला हुआ है.

ये भी पढ़ें- सुपर साइक्लोन में बदला चक्रवात ‘अम्फान’, बंगाल-ओडिशा में अलर्ट

चक्रवात तूफान को देखते हुए ओडिशा और पश्चिम बंगाल की सरकार ने जरूरी कदम उठाने शुरू कर दिए हैं. पश्चिम बंगाल और ओडिशा सरकार तटीय इलाकों से लोगों को बाहर निकाल कर सुरक्षित जगहों पर पहुंचा रही है.

ANI

@ANI

We will have to evacuate around 50,000-60,000 people. 1000 personnel of Odisha Disaster Rapid Action Force have been deployed. CM has reviewed the situation and coordination between various departments: Odisha Chief Secretary on

View image on Twitter
59 people are talking about this

एनडीआरएफ के डीजी ने कहा कि ओडिशा और पश्चिम बंगाल की तरफ से जो भी मांग की जा रही है, हम उसे पूरा कर रहे हैं. पश्चिम बंगाल में एनडीआरएफ की टीमों को पहले से तैनात कर दी गई हैं. इसके अलावा चार टीमों को तैयार यानी स्टैंड बाई पर रखा गया है. जबकि ओडिशा में 13 टीमें तैनात की गई हैं और 17 स्टैंड बाई पर रखा गया है. साथ ही आर्मी, एयर फोर्स, नेवी और कोस्ट गार्ड की टीमों को भी अलर्ट पर रखा गया है.

ANI

@ANI

Adequate number of NDRF teams have been deployed in Odisha and West Bengal and are currently engaged in awareness and evacuation drives: DG, National Disaster Response Force (NDRF) on the super cyclone ‘AMPHAN’

View image on TwitterView image on Twitter
36 people are talking about this

तूफान की तेज रफ्तार से तबाही की आशंका

भारत मौसम विभाग (IMD) के मुताबिक चक्रवात अम्फान ने दक्षिण और मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर तीव्र तूफान का रूप ले लिया है. यह बंगाल की दक्षिण खाड़ी के मध्य भागों में 6 घंटे के दौरान 13 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार के साथ उत्तर/उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ गया है. जो 20 मई को पश्चिम बंगाल, ओडिशा और बांग्लादेश के तटों से टकराएगा. इस दौरान हवा की गति करीब 155-165 किमी प्रति घंटा होगी. तूफान की तीव्रता के कारण भारी नुकसान का अनुमान है.

मछुआरों को समंदर किनारे ना जाने की चेतावनी

मौसम विभाग की ओर से मछुआरों को 20 तारीख तक ओडिशा और बंगाल के तटों के समंदर किनारे ना जाने की सलाह दी गई है. एसडीएमए ने भूस्खलन की संभावना वाले इलाकों और नदी के किनारे व तटीय क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को सतर्क रहने के लिए कहा है. साथ ही मछुआरों को चेतावनी दी गई है कि वे समंदर किनारे या मछली पकड़ने न जाएं.

ANI

@ANI

All ships in anchorage area sent to safer waters. All operations inside the port to seize by today evening. In the township area, we’ve activated cyclone shelters. Availability of drinking water,cooked food,dry ration&masks being made: Chairman, Paradip Port Trust,Odisha

View image on Twitter
37 people are talking about this

तूफान अम्फान को लेकर केरल के 13 जिलों में येलो अलर्ट

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने सोमवार को चक्रवाती तूफान ‘अम्फान’ के कारण केरल में भारी बारिश का अनुमान जाहिर किया है. इसके बाद राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (एसडीएमए) ने आज यानी मंगलवार के लिए 9 जिलों में येलो अलर्ट जारी कर दिया है. येलो अलर्ट का मतलब है कि लोगों और अधिकारियों को सतर्क रहना होगा, क्योंकि राज्य में भारी बारिश की उम्मीद की जा रही है.

बंगाल-ओडिशा के साथ इन राज्यों में भी होगा ‘अम्फान’ का असर, अलर्ट जारी

कई राज्यों में भारी बारिश का अनुमान, ऑरेंज अलर्ट जारी

मौसम पूर्वानुमान एजेंसी स्काईमेट के मुताबिक केरल, तटीय कर्नाटक और दक्षिणी तमिलनाडु के कुछ हिस्सों में मध्यम से भारी बारिश जारी रहने की उम्मीद है. आंतरिक तमिलनाडु, आंतरिक कर्नाटक, मध्य महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ के कुछ हिस्सों, पश्चिम बंगाल, ओडिशा और उत्तर पूर्वी राज्यों में कुछ स्थानों पर बारिश के आसार हैं. चक्रवाती तूफान अम्फान का असर देश के 8 राज्यों पर पड़ सकता है. जिसे लेकर कई राज्यों में अलर्ट जारी किया गया है. मौसम विभाग ने चक्रवाती तूफान की आशंका को देखते हुए पूर्वी तटों के राज्य तमिलनाडु और पुडुचेरी से लेकर आंध्र प्रदेश, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, त्रिपुरा, मिजोरम, मणिपुर और आस-पास के तटीय इलाकों में ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है. वहीं, ओडिशा के तटीय जिले हाई अलर्ट पर हैं.

0 Reviews

Write a Review

admin

Read Previous

भारत में एक लाख से ज्यादा हुए कोरोना के मरीज, तीन हजार से ज्यादा ने गंवाई जान

Read Next

घरेलू उड़ान के लिए विमानन मंत्रालय ने जारी किए दिशा निर्देश, जान लें ये बेहद जरूरी बातें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *